बॉलीवुड रीलोडेड
ANC Exclusive
Typography

हिन्दुस्तान के दिल दिल्ली के अपने अलग ही नाज़ और नखरे हैं. दिल्ली ही क्यों,देश की राजधानी परिक्षेत्र में आने वाले हर इलाके का वही रुतबा है. यह शहर ऊपर आसमान में चमक रहे सितारों का नूर चुराने का एक भी मौका नहीं छोड़ता. फ़िलवक्त महफ़िल जमी थी गुरुग्राम के शानदार बार ‘मिनिस्ट्री ऑफ़ बियर’ में.

हिन्दुस्तान के दिल दिल्ली के अपने अलग ही नाज़ और नखरे हैं. दिल्ली ही क्यों,देश की राजधानी परिक्षेत्र में आने वाले हर इलाके का वही रुतबा है. यह शहर ऊपर आसमान में चमक रहे सितारों का नूर चुराने का एक भी मौका नहीं छोड़ता. फ़िलवक्त महफ़िल जमी थी गुरुग्राम के शानदार बार ‘मिनिस्ट्री ऑफ़ बियर’ में.


मौका भी था,समां भी और कुछ बेहतरीन चेहरे और नाम भी. इस मौके का नाम था ‘ बॉलीवुड रीलोडेड’, जिसका आयोजन अंजना कुठियाला जी ने किया था. अक्सर नाम बता देते हैं कि मौके का मिजाज़ क्या रहा होगा. इस महफ़िल का नाम भी बहुत हद तक अपने हाल ओ समां की बयानी कर देता है. बॉलीवुड रीलोडेड नाम के इस उत्सव में मुम्बईया फिल्म नगरी को सलाम भेजना था. कैसे? बड़ा आसान तरीका बताया गया. अपने सबसे प्रिय फ़िल्मी सितारे की तरह तैयार होकर आइये,रैंप पर जलवे बिखेरिये और जितनी पार्टी करनी है खुल कर कीजिये.

भारत का फिल्म उद्योग दुनिया के सबसे बड़े फिल्म निर्माण उद्योगों में से एक है. इसे अक्सर हॉलीवुड की तर्ज पर ‘बॉलीवुड’ कह कर बुलाया जाता है. करीबन सौ सालों से भी पुराने इस फिल्म जगत ने हजारों लाखों फिल्मों को बनते देखा है और कई आम चेहरों को सितारों में बदलते हुए भी. कहानी शुरुआत के सितारों देविका रानी सरीखे नामों से शुरू होकर आज के नामों रणवीर, रणबीर, दीपिका, आलिया, प्रियंका जैसे कलाकारों के नामों तक अनवरत् चलती आ रही है. मुम्बईया फिल्म के इस लम्बे-चौड़े इतिहास को कई हिस्सों में समेटा गया है. सबसे कमाल की बात यह है कि फिल्म के बनने के तौर-तरीके की तरह हर दौर का फैशन भी जुदा-जुदा रहा.

1940 का फैशन 1950 से अलग था,पचास का साठ से, साठ का सत्तर से और ठीक इसी तर्ज़ पर अस्सी में अलग तरह के कपडे और बाद के दशकों में अलग-अलग के फैशन को जगह दी गयी.


कभी कुछ फ़िल्में तो कभी कुछ सितारे बदलते हुए फैशन का पर्याय बने. कमाल अमरोही की फिल्म पाकीज़ा और के आसिफ की फिल्म ‘मुग़ले आज़म’ अपनी बेहतरीन कहानी के अलवा अपने खूबसूरत सेट और अदाकारों एवं अदाकाराओं के पहने हुए लाजवाब कपड़ों के लिए आज तक याद की जाती हैं. ठीक इन फिल्मों की तरह कुछ कलाकारों ने भी अपने स्टाइल और ड्रेसिंग सेन्स से भारत में फैशन को अपने ढंग से मोड़ दिया था.


साधना का हेयर स्टाइल, मुमताज़ की बेहतरीन साडी, देवानद की काली कमीजें, अमिताभ के जैकेट्स, विनोद खन्ना के ट्राउज़र, सायरा बानो के सलवार कुरते, मधुबाला और मीना कुमारी के अपने रंग-ढंग, रेखा की कांजीवरम साड़ियाँ, माधुरी का बैंगनी लहंगा,  ऐश्वर्या का देवदास लुक, दीपिका का शाही अंदाज़, रणवीर का दाढ़ी लुक और प्रियंका का ट्रेंच कोट,
बॉलीवुड अब तलक इस देश के कपडे पहनने और सजने सँवारने के ढंग को निर्देशित करता आ रहा है.

फिल्म नगरी के हमारी जिंदगी में इसी उपस्थिति को सलाम करने का उत्सव था बॉलीवुड रीलोडेड. अंजना कुठियाला के निर्देशन में आयोजित इस सामारोह में लोग अपने पसंदीदा सितारों की तरह सज संवर कर पार्टी का लुत्फ़ उठा रहे थे. वहां प्रीति घई कटरीना कैफ की तरह रैंप पर जलवे बिखेर रहीं थीं, मीनाक्षी दत्त और उमेश दत्त ने मुमताज़ और राजेश खन्ना को जिंदा कर दिया, अमित तलवार रणबीर कपूर के जुड़वां लग रहे थे.

शो में निपुण कुठियाला शाहरुख खान के अवतार में रैंप पर चलते नज़र आये वहीं भारत रेशमा ग्रोवर रवीना टंडन की भूमिका में गज़ब लग रहीं थीं. पूजा गुप्ता ने माधुरी की भूमिका में अपने डांस परफोर्मेंस से समां बाँध दिया जब की शो की मुख्य आर्गेनाइजर अंजना कुठियाला नर्गिस का नूर लेकर आयीं थीं. रजनीश जो राज कपूर से कम नहीं लग रहे थे, उनके साथ उन्होंने प्यार हुआ इकरार हुआ गाने पर अभिनय कर लोगों को उस ज़माने की जोड़ी की याद दिला दी.


अना सचदेव काजोल
और सुनीति शर्मा जया प्रदा की तरह सज कर आयीं थीं और बेमिसाल लग रहीं थीं. मुनीश श्वेता कपूर, रिंकू तुलसियन श्रॉफ ने भी अपने परफोर्मेंस से लोगों का दिल जीत लिया. जबकि पैनल में शिलानी साध, वंदना वढेरा, आरती कपूर, ऋतु भगत, शिखा शर्मा और मृदुला रंजन खत्री मौजूद थे. वहां सबके साथ अभिनेत्री सुचित्रा पिल्लई भी मौजूद थीं, जिन्हें ख़ास अंदाज़ में पार्टी का आनंद उठाते देखा गया.

 

फोटो एल्बम ऑफ़ द' इवेंट, बॉलीवुड रीलोडेड - फॉर मोरे फोटोग्राफ्स क्लिक द लिंक बिलो : https://www.facebook.com/pg/AsianNewsChannel/photos/?tab=album&album_id=1457872134326491